बजट में ना कोई विजन, ना कोई डिसिजन- वसुन्धरा राजे


जयपुर। पूर्व मुख्यमंत्री  वसुन्धरा राजे ने बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि राज्य सरकार ने बजट के नाम पर सिर्फ आंकड़ों का भ्रमजाल पेश किया है। झूठ के कच्चे धागों से बुने इस निराशाजनक बजट के ताने-बाने में ना तो कोई विजन है और ना कोई डिसिजन।


राजे ने कहा कि राज्य सरकार का फोकस विकास पर नहीं, हमारी भाजपा सरकार की योजनाओं के नाम बदल कर जनता को गुमराह करने पर रहा। बजट में भामाशाह कार्ड को जन आधार कार्ड, स्वस्थ राजस्थान को निरोगी राजस्थान, पीएमकेवीवाई को सीएमकेवीवाई का नाम देकर सरकार लोगों को भ्रमित करने का असफल प्रयास कर रही है।


उन्होंने कहा कि चुनावी घोषणा पत्र को ये सरकार पूरी तरह से भूल चुकी है। इसीलिये इस बजट में ऐसी कोई नीति नहीं है जिससे युवाओं, किसानों, महिलाओं व व्यापारियों के सपने ठोस रूप से साकार हो सके तथा निम्न व मध्यम वर्ग का जीवन स्तर बेहतर बन सके।


राजे ने कहा कि हाल ही में केन्द्र की भाजपा सरकार ने सभी जिलों में मेडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा की थी। अब राज्य सरकार भी इसे बजट में शामिल कर केंद्र की घोषणा को अपने नाम से प्रचारित करना चाहती है।