14 प्रीमियम सम्पत्तियों के लिए फिर उमड़ी 116 बोलीदाताओं की भीड़

 बिकी 14 सम्पत्तियां, मिला 10 करोड़ 42 लाख रूपये का राजस्व


जयपुर। आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि मंडल द्वारा मंगलवार को जयपुर, अजमेर, जोधपुर और कोटा में 14 प्रीमियम सम्पत्तियों को खुली नीलामी के माध्यम से बेचा गया। इन सम्पत्तियों के विक्रय से मंडल को 10 करोड़ 42 लाख रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ हैउल्लेखनीय है कि इन सम्पत्तियों को खरीदने के लिए 116 लोगों ने नीलामी बोली में भाग लिया


उन्होंने बताया जयपुर के प्रताप नगर में 4 सम्पत्तियों को खरीदने के लिए 35 लोगों ने नीलामी में भाग लियाइन सम्पत्तियों के विक्रय से 4 करोड़ 82 लाख रूपये का राजस्त मिला। इसी तरह जयपुर की मानसरोवर योजना में 4 सम्पत्तियों को खरीदने के लिए 62 लोगों ने बोली में भाग लिया। इन सम्पत्तियों के विक्रय से मंडल को 2 करोड़ 78 लाख रूपये का राजस्त मिला।


अरोड़ा ने बताया कि इसी तरह अजमेर की पंचशील योजना में 1 सम्पत्ति को खरीदने के लिए 3, जोधपुर की कुड़ी भगतासनी योजना में 3 सम्पत्तियों को खरीदने के लिए 9 और कोटा की कुन्हाड़ी आवासीय योजना में 1 सम्पत्ति को खरीदने के लिए 3 लोगों ने बोली में भाग लिया। इन सम्पत्तियों के विक्रय से मंडल को 2 करोड़ 82 लाख रूपये का राजस्त मिला। इस तरह इन सभी सम्पत्तियों के विक्रय से मंडल को 10 करोड़ 42 लाख रूपये का राजस्त मिला


बुधवार को जयपुर और कोटा में होगी व्यावसायिक सम्पत्तियों की नीलामी आतासन आयुक्त श्री पतन अरोड़ा ने बताया कि बुधवार को जयपुर के प्रताप नगर और मानसरोवर आवासीय योजना और कोटा के महावीर नगर परिजात योजना में स्थित व्यावसायिक सम्पत्तियों की सम्बंधित कार्यालयों में प्रातः 11 बजे से खुली नीलामी आयोजित की जाएगी।