कोरोना को हराने के लिए आमजन आने वाले दो हफ्ते करें  कोरोना से जुड़ी एडवाइजरी का पालन - चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री
जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि कोराना वायरस को लेकर आने वाले दो हफ्ते प्रदेश सहित देश भर के नागरिकों के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार चार चरणों में फैलने वाली यह बीमारी आमजन के सहयोग से दो चरणों में कोई विशेष प्रभाव नहीं छोड़ पाई है लेकिन तीसरे और चौथे चरण में यह समुदायों और समूहों में फैलती है। उन्होंने आमजन से अपील की है कि वे आगामी दो सप्ताह कोरोना से जुड़ी एडवाइजरी का पालन करेंगे तो कोरोना को आसानी से मात दी जा सकेगी।

 

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार और चिकित्सा विभाग कोरोना की रोकथाम के लिए पूर्णतया सजग और संवदेनशील है। किसी भी स्तर पर कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी जा रही है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने प्रदेश में कोरोना की रोकथाम के लिए 4 नए जिलों में (अजमेर, कोटा, भरतपुर और झुंझुनू) में भी जांच सुविधा शुरू करने एवं जयपुर में भी दोगुने सैंपल की जांच की व्यवस्था शुरू करने के निर्देश दिए हैं, ताकि आमजन को किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।

 

डॉ. शर्मा ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों से आने वाले सभी यात्रियों की गहन स्क्रीनिंग की जा रही है। सभी यात्रियों का सैंपल लेकर उन्हें होटलों में जब तक सैंपल की रिपोर्ट नहीं आ जाए तब तक रूकने की व्यवस्था की गई है। उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आने पर उन्हें घर भेजा जाएगा और किसी व्यक्ति में लक्षण प्रतीत होने पर उन्हें होम आइसोलेशन में रखा जाएगा।

 

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि पॉजीटिव आने वाले मरीजों को चिन्हित कर उनके घरों पर भी इस संबंध में सूचना चस्पा की जाएगी ताकि आस-पड़ोस के लोग उनसे नहीं मिले और संक्रमण का खतरा कम से कम हो। उन्होंने कहा कि आयुर्वेद विभाग द्वारा अब तक प्रदेश में 8660 केंद्रों पर काढ़ा बनाकर करीब 4 लाख 24 हजार 644 लोगों को काढ़ा भी पिलाया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कहीं सेनेटाइजर्स की कोई कमी नहीं है, यदि कोई इसकी काला बाजारी करने की कोशिश करता है तो उसके खिलाफ भी कार्यवाही करने के निर्देश जिला कलेक्टर्स को दिए गए हैं।

 

उन्होंने आमजन से भीड़भाड़ के क्षेत्रों में कम से कम जाने, जब तक जरूरी ना हो सार्वजनिक यातायात का उपयोग लेने, कोई भी लक्षण दिखने पर तुरंत चिकित्सकीय परामर्श लेने सहित कई तरह की अपील भी की है। उन्होंने कहा कि आमजन सरकार द्वारा लिए गए निर्णयों में मदद करेंगे तो इस महामारी से आम व्यक्ति का जीवन बचाया जा सकेगा।