कोरोना वायरस: विधायक नागर ने मुख्यमंत्री कोष में दिया 1 माह का वेतन।
जयपुर। दूदू के विधायक एवं पूर्व मंत्री बाबूलाल नागर ने कोरोना वायरस पर राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे सार्थक प्रयासों और आम जन को सुलभ कराई जा रही बेहतर चिकित्सा के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष में अपना एक माह का वेतन देने की घोषणा की है। नागर ने कहा है कि इस महामारी से लड़ने के लिए पूरे प्रदेश के भामाशाहो को मुख्यमंत्री सहायता कोष में सहयोग करना चाहिए ताकि सरकार द्वारा और बेहतर कदम उठाए जा सके।

 

पूर्व मंत्री नागर ने एक बयान में कहा कि देश में राजस्थान ऐसा राज्य है जहां कोरोना वायरस के संक्रमित पाए जाने के बाद सरकार ने संक्रमित क्षेत्रों की तुरंत स्क्रीनिंग कराई संक्रमित लोगों का उपचार कराया और उनको ठीक भी कराया। उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार के उठाए गए कदमों की डब्ल्यू एच ओ तथा भारत सरकार भुरी भुरी प्रशंसा कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कोरोना वायरस मामले में प्रतिदिन सरकार के कामकाज की मॉनिटरिंग कर रहे हैं और नए कदम उठाने के निर्देश दे रहे हैं।

 

नागर ने कहा कि राज्य सरकार ने यथा समय लॉक डाउन के निर्देश दिए, तथा एक करोड़ से अधिक परिवारों को 2 माह तक 5 किलो अनाज प्रति व्यक्ति निशुल्क देने, दिहाड़ी मजदूर स्टेट वेंडर्स एवं कच्ची बस्ती में रहने वाले जरूरतमंद परिवार जो राष्ट्रीय सुरक्षा खाद्य कानून से कवर नहीं है उन्हें भी 1 अप्रैल से 2 माह के लिए आवश्यक खाद्य सामग्री के पैकेट जिला प्रशासन के माध्यम से मुफ्त उपलब्ध करवाने तथा 78 लाख से ज्यादा सामाजिक सुरक्षा पेंशन धार को को मार्च तक के समस्त बकाया पेंशन का भुगतान अप्रैल के प्रथम सप्ताह में कराने जैसे महत्वपूर्ण निर्णय लिए जिससे आम आदमी को बहुत राहत पहुंचेगी