नवग्रह आश्रम में 31 मार्च तक चिकित्सा सेवाएं हुई स्थगित

सरकार की एडवाइजरी जारी होने के बाद आश्रम सेवा संस्थान ने लिया निर्णय


मूलचन्द पेसवानी


शाहपुरा, भीलवाड़ा। भीलवाड़ा जिले के मोती बोर का खेड़ा रायला में स्थित श्री नवग्रह आश्रम सेवा संस्थान में आगामी 31 मार्च तक चिकित्सा कार्य स्थगित किया गया है। 31 मार्च तक आश्रम में किसी भी प्रकार के रोगी या अन्य व्यक्तियों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। आश्रम के संस्थापक हंसराज चौधरी ने बताया कि सरकार द्वारा एडवाइजरी जारी किए जाने के बाद आज से ही यह प्रतिबंध लगाया गया है। इस दौरान किसी भी रोगी को कोई भी औषधि नहीं दी जाएगी तथा चिकित्सकों द्वारा कोई भी चिकित्सा कार्य नहीं किया जाएगा। संस्थापक हंसराज चौधरी ने बताया कि आश्रम के यूट्यूब चैनल पर इस संबंध में समय-समय पर दिशा निर्देश जारी किए जाएंगे और आश्रम में चिकित्सा सुविधा प्रारंभ होते ही यूट्यूब चैनल व मीडिया के माध्यम से देश दुनिया की जनता को सूचित किया जाएगा ।


आश्रम संस्थापक हंसराज चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की अपील का समर्थन करते हुए आश्रम से जुड़े हुए तमाम हजारों रोगियों, स्वयंसेवकों व कैंसर सैनिकों, कार्यकर्ताओं से 22 मार्च रविवार को प्रातः 7:00 से रात्रि 9:00 तक जनता कर्फ्यू के तहत अपने ही घरों में रहने की अपील भी की है। उन्होंने लोगों से कहा है कि कोरोना वायरस से किसी भी प्रकार से भयभीत होने की आवश्यकता नहीं है। एडवाइजरी के मुताबिक वह बचाव के सभी साधनों का उपयोग करते हुए सहयोग करें तथा किसी भी विषम परिस्थिति में तत्काल ही अपने चिकित्सक से संपर्क करें । कहीं भी इकट्ठा होकर भीड़-भाड़  का हिस्सा ना बने। उन्होंने लोगों से आश्रम के यूट्यूब चैनल को नियमित रूप से देखकर वहां बताए गए दिशानिर्देशों का पालन करने को भी कहा है उन्होंने बताया कि नियमित रोगियों के संबंध में भी इस चैनल पर उनको प्रतिदिन निर्देश दिए जाएंगे।