सरकार गरीबों एवं किसानों के बिजली-पानी के बिल माफ करे- पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह

भरतपुर। पर्यटन एवं देवस्थान मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि वे गरीबों एवं किसानों को इस मुश्किल वक्त में राहत देते हुए विद्युत एवं पानी के बिलों की राशि को माफ करें। पर्यटन मंत्री सिंह ने अपील जारी कर कहा कि प्रदेश खासकर भरतपुर जिले के किसान पहले ही ओलावृष्टि एवं अतिवृष्टि से पीड़ित है। अब कोरोना वायरस की इस महामारी के कारण लॉकडाउन से किसानां और गरीब परिवारों के हालात और खराब हो गये है, जिसे देखते हुए मैंने मुख्यमंत्री से किसानों और आयकर श्रेणी में नहीं आने वाले गरीब परिवारों के बिजली एवं पानी के बिल माफ करने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि ओलावृष्टि एवं अतिवृष्टि से हुए खराबे के बकाया मुआवजे का भुगतान भी शीघ्र किया जाये। 



जिला प्रशासन के कार्यों की सराहना



पर्यटन मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप जिला प्रशासन ने तत्परता और कुशलता से पलायन करने वाले गरीब मजदूर परिवारों को उनके घर तक पहुंचने में मदद की है। यूपी-बिहार के रहने वाले ऐसे हजारों श्रमिकों को उनके भोजन-पानी की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए जिले से सटी यूपी सीमा पर भी पहुंचाया गया। 



पंच, सरपंच, पार्षद अपने क्षेत्र में किसी को भूखा न सोने दें



पर्यटन मंत्री ने मदद के लिए आगे आ रहे दानदाताओं और भामाशाहों का आभार प्रकट करते हुए अपील की है कि लोग इसी जज्बे को बनाये रखते हुए और अधिक आर्थिक सहयोग करें तथा यह भी ध्यान रखें कि उनके आस-पड़ौस में कोई भी परिवार भूखा न सोए। उन्होंने पंच, सरपंचों, पार्षदों से अपील की है कि वे अपने-अपने क्षेत्रों के गरीब परिवारों को खाद्य सामग्री और अन्य जरूरी मदद मुहैया करायें।