आरोग्य सेतु को डाउनलोड कर जन आंदोलन बनाएं

 


नीति गोपेंद्र भट्ट


नई दिल्ली। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मन्त्री डॉ हर्ष वर्धन ने कहा कि कोरोना से लड़ाई में आरोग्य सेतु ऐप एक महत्वपूर्ण हथियार है। उन्होंने बताया कि भारत सरकार के इस ऐप आरोग्य सेतु को डाउनलोड कर जन आंदोलन बनाया जाना चाहिये चूँकि इससे घर बेठे कोरोना वायरस के बारे में सही मार्ग दर्शन प्राप्त किया जा सकता है।


तस्वीरें बोलती हैं


देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का गमछे को मास्क बनाकर मुंह को ढकना बताता है नियम सभी के लिए बराबर होते है।अगर आपके पास भी सर्जिकल मास्क उपलब्ध न हो, तो आप भी किसी साफ कपड़े को ही मास्क के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं।


कोविड 19 और लॉक डाउन  को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज  जब वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा कर रहे थे तब उन्होंने यह गमछा अपने मुँह पर लगाया हुआ था।। इस  बैठक में गृह मंत्री अमित शाह एवं रक्षा मंत्री राजनाथ  सिंह के साथ  डॉ हर्ष वर्धन भी मौजूद थे।


कोविड 19 को लेकर देशवासियों के मन में उठने वाली जिज्ञासाओं पर एक राष्ट्रीय समाचार पत्र को दिए अपने इंटरव्यू में  डॉ हर्ष वर्धन ने कहा कि कोरोना वायरस को पूरी तरह खत्म करने में थोड़ा वक्त ज़रूर लगेगा लेकिन भारत में इटली और अमेरिका जैसी हालत नहीं होगें।



धूम्रपान नहीं करें


उन्होंने अपने सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म के ट्विटर हैंडल पर लोगों से धूम्रपान नहीं करने की अपील भी की।


केंद्रीय मंत्री ने बताया कि यदि आप धूम्रपान कर रहे हैं तो आपको कोरोना वायरस (कोविड-19 )संक्रमण होने का खतरा अधिक है।


साथ ही सभी प्रकार के धूम्रपान उत्पादों से भी वायरस से संक्रमित होने की संभावना बढ़ जाती है। 


उन्होंने बताया कि धूम्रपान आपके हाथ से वायरस को आपके मुंह में स्थानांतरित करता है। इसलिए धूम्रपान
को तुरन्त छोड़ देना चाहिये।इसमें किसी प्रकार की देरी करना उचित नहीं है।
 
पाक की नापाक हरकत


उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया जब एकजुट होकर कोविड 19 के खिलाफ़ ज़ंग लड़ रही है, पाक अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा। लेकिन 
हमें गर्व है अपने सैनिकों पर जिन्होंने सीमा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन करने पर पाक सेना को मुंह-तोड़ जवाब दिया है।