चिकित्सा मंत्री ने किया रामगंज का दौरा, क्वारेंटाइन सुविधाओं का लिया जायजा

जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बुधवार को मुख्य सचेतक महेश जोशी, यातायात मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास, स्थानीय विधायक अमीन कागजी और रफीक खान के  साथ कोरोना प्रभावित रामगंज का दौरा किया और कोरोना संक्रमित और संदिग्धों के लिए चिन्हित क्वारेटाइन व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

चिकित्सा मंत्री ने कोरोना प्रभावित क्षेत्र का दौरा कर धर्मगुरुओं से बातचीत की ताकि आमजन को मोटिवेशन मिल सके। उन्होंने बताया कि कोरोना संदिग्धों के लिए नायला में हाउसिंग बोर्ड के 700 मकानों में क्वारेंटाइन व्यवस्था की गई है। यहां एक मकान 4 से 6 लोगों का परिवार आराम से रह सकता है। मकानों में शौचालय, पंखे, बिजली, पानी की सभी व्यवस्थाएं की जा रही हैं। उन्होंने बताया कि इसके अलावा महला में भी 4400 फ्लैट्स में क्वारेंटाइन सुविधा विकसित किए जा रहे हैं। दोनों को मिलाकर 10 से 15 हजार लोगों को आसानी से क्वारेंटाइन किया जा सकता है।

डॉ. शर्मा ने कोरोना प्रभावित क्षेत्रों के लोगों का आव्हान करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर घरों से भी बेहतर सुविधाएं क्वारेंटाइन सेंटरर्स पर उपलब्ध करवाई जा रही हैं। इन केंद्रों पर जाने से न केवल सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहेगी बल्कि खुली हवा में मरीज स्वस्थ भी रह सकेंगे। उन्होंने बताया कि उनके सैंपल्स चिकित्सा विभाग की टीमें ले सकेंगी और उनकी आवाजाही भी बनी रहेगी। इससे आमजन भी सुरक्षित रहेगा और चिकित्सकों की निगरानी में उनका इलाज भी हो सकेगा।

उन्होंने कहा कि सरकार व्यापक स्तर पर आमजन की मदद के लिए क्वारेंटाइन सुविधा विकसित कर ही है। कोरोना से स्वयं को और समाज को बचाने के लिए स्वप्रेरणा से जांच करवाएं और जरूरत पड़ने पर क्वारेंटाइन की सुविधा लें।  

डॉ. शर्मा ने कहा कि शाम 9 बजे तक राज्य में कोरोना पॉजीटिव की संख्या 1076 हो गई है, इनमें से 483 जयपुर से हैं। इनमें से 147 पॉजीटिव से नेगटिव हुए हैं और 74 डिस्चार्ज भी कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि जितनी ज्यादा जांचें हम कर रहे हैं उतने ही पॉजीटिव केसेज बढ़ रहे हैं। इससे घबराए नहीं। हालात पूरी तरह काबू में है।