केंद्र की मोदी सरकार अपने विकास के एजेंडे पर अटल है- सांसद दीयाकुमारी
केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय ने 412 करोड़ रुपये किये स्वीकृत, रास-बाबरा-रूपनगर-जवाजा-आसींद-माण्डल मार्ग दो लेन में स्वीकृत

 

राजसमन्द। सांसद दीयाकुमारी ने केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गड़करी और मोदी सरकार का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कोरोना संकट से जूझ रही केंद्र की मोदी सरकार अपने विकास के एजेंडे पर अटल है। बजट सत्र के दौरान केंद्रीय मंत्री गड़करी ने जो वादा किया था उसको निभाया है। सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि इस महत्वकांशी योजना से जहां विकास के नए आयाम स्थापित होंगे वहीं जेतारण, ब्यावर और भीम विधानसभा क्षेत्र की आम जनता को सीधे तौर पर आवागमन में सुविधा के साथ समय की बचत होगी।

 

सड़क मंत्रालय और सरकार के साथ सांसद दीयाकुमारी के सतत सम्पर्क और वार्ताओं के नतीजतन रास बाबरा रूपनगर जवाजा आसींद माण्डल मार्ग को दो लेन की स्वीकृति मिली है। यह मार्ग नेशनल हाइवे 158 है। 

 सड़क और परिवहन मंत्रालय द्वारा विश्व बैंक निधि से कुल लागत 412 करोड़ मंजूर किये गए हैं जिसकी प्रशासनिक, वित्तीय और तकनीकी स्वीकृति जारी हो चुकी है। 

 

मीडिया संयोजक मधुप्रकाश लड्ढा ने बताया कि अभी तक 87 किलोमीटर की स्वीकृति हुई है और कुछ आंशिक स्वीकृति प्रक्रियाधीन है। इस योजना को विश्व बैंक द्वारा वित्त पोषित हरित राष्ट्रीय राजमार्ग गलियारे योजना के तहत दो लेन स्वीकृत किया गया हैं, जिसको 2023 तक पूर्ण किया जाएगा। ज्ञात रहे कि सांसद दीयाकुमारी ने कई बार इस मसले को संसद के अंदर और बाहर भी उठाया था।