कोई भी भूखा ना सोए, सात दिन से मदद में जुटी है टीमकल्पतरु


जयपुर।  कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए किए गए सरकार के प्रयास के बीच शहर में सेवाभावी लोग बढ़-चढ़कर आगे आ रहे हैं।  छोटी काशी के नाम से मशहूर गुलाबी नगर में जरूरतमंदों के लिए घर-घर भोजन तैयार हो रहा है।  बच्चे, युवा बुजुर्ग के साथ महिलाएं भी जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध करा रही है।  वहीं श्री कल्पतरु संस्थान का एक दल सात दिनों से जानवर और पक्षियों को चारा और दाना पानी पहुंचाने के काम में लगा हुआ हैं।  अन्य कार्यकर्ता रोज़ाना पांच सौ लोगों का भोजन बनानें और वितरण करने जैसे कार्यों में लगे है। 


साधुराम वर्मा बताते है कि जब इन प्रयासों की भनक समाजसेवी झाबरमल डाका को लगी तो वे स्वयं श्री कल्पतरु संस्थान के कार्यकर्ताओं के बीच पहुंचकर उन्हें राहत सामग्री उपलब्ध करवाने में जुट गए।  श्री कल्पतरु संस्थान महिला शाखा की कार्यकर्ताओं सोनियां मीणा, मोनिका जांगिड़ और नीता शुक्ला मॉस्क बनानें और सेनेटाइजर उपलब्ध करानें की ज़िम्मेदारी संभाल रही है वहीँ शाखा के अभिषेक शर्मा, रवि शर्मा, जोकर दादा और गौतम पांचाल सहित सैकड़ों वॉलेंटियर्स जयपुर पुलिस और जिला प्रशासन के उच्चाधिकारियों की देखरेख में रात दिन सेवा में जुटे हैं।