कोई भी विकास इंसान के स्वास्थ और जीवन से बढ़कर नहीं- सांसद दीयाकुमारी



सांसद का जनता से घर की दहलीज नहीं लांघने का आह्वान


राजसमन्द। सांसद दीयाकुमारी ने जनता से घर की दहलीज नहीं लांघने का आह्वान करते हुए कहा कि यह समय व्यक्तिगत हितों से ऊपर उठते हुए एकमुखी होकर कार्य करने का है। सरकार और प्रशासन अपना कार्य बेहतरीन तरीके से कर रहे हैं और जनता को भी चाहिए कि सिर्फ सरकार के भरोसे ही नहीं रहे, हमें भी अच्छे नागरिक होने का कर्तव्य निभाना चाहिए। सरकार जो कुछ भी नीतिगत फैसले ले रही है वो जनता के हितों को देखते हुए ही है। 

 

 जनता के नाम दिए सन्देश में सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि कोरोना वायरस कोविड-19 जैसी विश्व व्यापी आपदा से निपटने के लिए हमें एकजुट आने की आवश्यकता है। सरकार और प्रशासन के प्रबंधन में कुछ कमी रहना सम्भव है और यह समय एक दूसरे की त्रुटियां निकालने का नहीं है। जिंदा रहे तो फिर से राजनीति करने का अवसर मिल जाएगा, अभी आपसी मतभेदों को भुलाते हुए साथ मिलकर लड़ने का समय है। 

 

मीडिया संयोजक एम पी लड्ढा ने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा सांसदों की 30 प्रतिशत वेतन कटौती और सांसद कोष को 2 वर्ष की अवधि तक स्थगित करने के निर्णय का स्वागत करते हुए सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि कोई भी विकास इंसान के स्वास्थ और जीवन से बढ़कर नहीं हो सकता और लॉकडाउन के पीछे भी सरकार की यही सोच है। अन्य देशों की तुलना में भारत में जल्दी लॉक डाउन किया गया इसके लिए पूरा देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभारी है।