कोरोना के कारण नेत्रदान भी संभव नहीं हो रहा, नेत्रदान में रुकावट बन रहा है कोरोना वायरस
कोटा। कोटा संभाग में नेत्रदान-देहदान-अंगदान के लिये कार्यरत शाइन इंडिया फाउंडेशन संस्था के सदस्यों ने बताया की,जयपुर स्थित आई बैंक से मिले निर्देशों के अनुसार फिलहाल 15 अप्रेल तक संभाग भर में नेत्रदान लेने की सुविधा नही मिल पायेगी । 

 

बीते 10 दिनों में संस्था के पास 8 शोकाकुल परिवार के परिजनों ने,अपने प्रियजनों के मरणोपरांत उनके नेत्रदान करवाने के लिये शाइन इंडिया फाउंडेशन को सम्पर्क किया था। बीते दो दिन में भी दादाबाड़ी निवासी प्रवीण जैन, अशोका कॉलोनी निवासी कमला बाई,व विज्ञान नगर निवासी प्रेमलता अग्रवाल जी के निधन उपरांत परिजनों ने चाहा की,इनके नेत्रदान का कार्य संपन्न हो तो,इनकी आँखों से कोई दृष्टिहीन व्यक्ति दुनिया देख सकेगा,और हमको भी खुशी रहेगी की,हमारे प्रियजन आज भी जीवित है ।

 

परन्तु वैश्विक महामारी कोरोना के कारण,संस्था सदस्य,शोकाकुल परिवार की यह इच्छा पूरी नहीं कर सके। शाइन इंडिया फाउंडेशन के सदस्यों ने बताया की,कोरोना महामारी के प्रभाव के कम होते ही व आई बैंक से निर्देश मिलते ही,पुनः शाइन इंडिया फाउंडेशन का नेत्रदान अभियान का कार्य संभाग स्तर पर प्रारम्भ हो जायेगा ।