लाईकी और युवराज सिंह-समर्थित हैल्थियंस ने दिए कोविड-19 संबंधी सवालों के जवाब, सुलझायी लाखो की दुविधा


नई दिल्‍ली। आम जनता की कोविड-19 या कोरोनावायरस के बारे में जिज्ञासाओं को शांत करने के उद्देश्‍य से लाईकी ने जाने-माने क्रिकेटर युवराज द्वारा सिंह समर्थित हैल्थियंस के साथ हाथ मिलाया, जो की भारत में सबसे बड़ी डोरस्‍टेप हैल्‍थ टैस्‍ट प्रदाताओं में से एक है। कोविड-19 के बारे में भ्रामक जानकारी दूर करने के मकसद से डॉक्‍टरों और मेडिकल प्रोफेशनल्‍स ने सिंगापुर स्थित बिजो टैक्‍नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड द्वारा पेश अग्रणी शॉर्ट वीडियो क्रिएशन प्‍लेटफार्म लाईकी के साथ नाता जोड़ाताकि इस ऍप की लोकप्रियता और व्‍यापक पहुंच का लाभ उठाते हुए लोगों को इस वैश्विक महामारी के बारे में सही जानकारी दी जा सके। इस गठबंधन ने यह साबित कर दिया है कि किसी सोशल मीडिया प्‍लेटफार्म और स्‍वास्‍थ्‍य सेवा-प्रदाताओं के बीच तालमेल से कोविड-19 जैसी अभूतपूर्व आपात स्थिति के दौरान लोगों की मदद की जा सकती है।  



इस सहयोग के तहत, हैल्थियंस के 5 चिकित्‍सा विशेषज्ञों और मुंबई के 3 डॉक्‍टरों ने मिलकर 25 मार्च से 1 अप्रैल के दौरान 8 लाइव ब्रॉडकास्‍ट किए। इन प्रसारणों को देशभर में करीब 8.2 लाख लोगों ने देखा और कुल 1.6 मिलियन लाइक्‍स भी मिले। हैल्थियंस से जुड़े डॉक्‍टरों एवं न्‍यूट्रिशनिस्‍टों ने लाईकी के यूज़र्स के साथ बातचीत की और इस घातक वायरस संक्रमण से जुड़े उनके सवालों के जवाब दिए। इस अवसर का लाभ उठाते हुए चिकित्‍सा पेशेवरों ने लोगों को इस महामारी के बारे में जागरूक बनाने के साथ-साथ उन्‍हें स्‍वस्‍थ रहने के महत्‍वपूर्ण नुस्‍खे भी बताए। उदाहरण के लिए, डॉक्‍टरों ने यूज़र्स को बताया कि सिर्फ हथेलियां धोने की बजाय हमें कुहनियों तक अपने हाथों को धोना चाहिए ताकि यह सुनिचित किया जा सके कि हाथों में कोई रोगाणु न रह पाए।

हैल्थियंस की टीम ने कोरोनावायरस से जुड़े आम सवालों (FAQs) के जवाब भी दिए, इनमें प्रमुख थे – साधारण फ्लू और कोरोनावायरस जनित फ्लू के बीच फर्क का कैसे पता लगाएं, नॉवेल कोरोनावायरस की उत्‍पत्ति और इसके प्रसार की तकनीकी जानकारी आदि। इसी तरह, लाइव सेशन के दौरान, कोविड-19 टैस्‍ट तथा उसके खर्च की जानकारी भी लोगों को दी गई। हैल्थियंस के सह-संस्‍थापक श्री दीपक साहनी, डॉ प्रणव, डॉ दीपक पाराशर, डॉ ओम पाटिल और न्‍यूट्रिशनिस्‍ट सॉक्‍या शताक्षी ने इंटरेक्टिव सेशंस के दौरान लाईकी यूज़र्स के साथ महत्‍वपूर्ण जानकारी शेयर की।

अभिषेक दत्‍ता, हैड, लाईकी इंडिया ने कहा, ''सोशल मीडिया ऐसे प्‍लेटफार्मों के रूप में अपना प्रसार कर चुका है जो आज के दौर में यूज़र्स के साथ काफी गहराई से जुड़े हैं। इंटरनेट पर जेनरेट होने वाला कन्‍टेंट इस लिहाज़ से काफी महत्‍वपूर्ण है और एक प्‍लेटफार्म के रूप में हमारी जिम्‍मेदारी है कि हम अपने यूज़र्स को भरोसेमंद स्रोतों से ही सूचनाएं प्राप्‍त करने में मदद करें। हैल्थियंस के साथ हमारी भागीदारी वर्तमान चिकित्‍सा संकट के दौर में अपने यूज़र्स को सही मार्गदर्शन तथा सहायता दिलाने की दिशा में किया गया संयुक्‍त प्रयास है।''

कोविड-19 महामारी सभी के लिए चिंता का विषय बन चुकी है और आम जनता इस संकट से काफी परेशान है। इस विषय में जानकारी के प्रमुख स्रोतों के रूप में ऑनलाइन प्‍लेटफार्मों की सक्रियता ने आम जनता को कोविड-19 के बारे में ढेर सारी जानकारी के भंवर में पहुंचा दिया है और ये स्रोत विश्‍वसनीय और गैर-भरोसेमंद दोनों किस्‍म के हैं। ऐसे में, वायरस के आतंक और इंटरनेट पर फैली अफवाहों तथा भ्रामक सूचनाओं के घातक मेल ने पूरे माहौल को और भी बिगाड़ दिया है। लिहाज़ा, लाईकी तथा हैल्थियंस जैसे जिम्‍मेदार प्‍लेटफार्मों ने मिलकर यह फैसला किया है कि इस बारे में लोगों तक सही जानकारी पहुंचाएंगे और उन्‍हें सुरक्षित बनाने के साथ-साथ मानसिक सुकून भी पहुंचाएंगे।