नोडल अधिकारी अजिताभ शर्मा ने की सेनेटाइजेषन व्यवस्था की समीक्षा

नोडल अधिकारी ने नगर निगम को दिए शहर का सेनेटाइजेषन कार्यक्रम जारी करने के निर्देष, प्रतिदिन बताना होगा कितनी गाड़ियां कहां चलीं।

जयपुर। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जयपुर जिले के नोडल अधिकारी ऊर्जा विभाग के प्रमुख शासन सचिव अजिताभ शर्मा ने नगर निगम को निर्देष दिए हैं कि पूरे शहर में सेनेटाइजेषन का एक्षन प्लान बनाकर समय एवं दिनांक वार कलैण्डर प्रस्तुत करें।
 शर्मा ने सोमवार को शासन सचिवालय में जिला कलक्टर डाॅ.जोगाराम, आयुक्त नगर निगम वी.पी.सिंह एवं अतिरिक्त जिला कलक्टर इकबाल खान की बैठक लेकर शहर में सेनेटाइजेषन एवं परकोटे से बाहरी इलाके में सैम्पलिंग के बारे में निर्देर्षित किया।



 शर्मा ने नगर निगम द्वारा सेनेटाइजेषन की वर्तमान व्यवस्था की समीक्षा करते हुए कहा कि कहीं-कहीं षिकायतें आ रही हैं कि संक्रमित क्षेत्र एवं प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में सेनेटाइजेषन वांछित रूप से नहीं हो पा रहा है इसलिए इसके लिए सुनिष्चित कार्यक्रम जारी किया जाए। वर्तमान में नगर निगम द्वारा 40 फायर बिग्रेड वाहनों एवं 110 नेपसेक स्प्रेयर द्वारा सेनेटाइजेषन का काम किया जा रहा है। शर्मा ने निर्देष दिए कि सेनेटाइजेषन के कार्यक्रम को सार्वजनिक किया जाए एवं जारी किए कार्यक्रम में बदलाव नहीं हो, जिससे लोग जागरूक रहें और पूरा क्षेत्र सही ढंग से कवर किया जा सके। उन्होंने कहा कि प्राथमिकता के आधार पर उन क्षेत्रों में सेनेटाइजेषन कराया जाए जहां संक्रमण के मामले अधिक आ रहे हैं। साथ ही कोई भी नया मामला आते ही तत्काल वहां पर भी सेनेटाइजेषन कराया जाना सुनिश्चित करें। साथ ही निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार रोजाना कहां, कितनी गाड़ियों ने सेनेटाइजेषन किया इसकी रिपोर्ट भी नोडल अधिकारी को दी जाए।