राजस्थान आवासन मंडल द्वारा जयपुर की नायला और महला आवासीय योजनाओं में तैयार किए जा रहे हैं क्वारेंटाइन सेंटर

मुख्यमंत्री के निर्देश पर जयपुर की नायला आवासीय योजना में 700 मकानों में 1400 कमरे और महला आवासीय योजना में 1500 फ्लैटों में 4400 कमरों को बनाया जा रहा है क्वारेंटाइन सेंटर

जयपुर। आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर राजस्थान आवासन मंडल की जयपुर स्थित महात्मा गांधी दस्तकार नगर आवसीय योजना, नायला  के 700 मकानों में 1400 कमरे और महला अवासीय योजना के 1500 फ्लैटों में 4400 कमरे क्वारेंटाइन सेंटर के रूप में तैयार किए जा रहे हैं।


अरोड़ा ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा मंगलवार को वीडियो कान्फ्रेंस में आवासन मंडल को क्वारेंटाइन सेंटर बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर तत्काल कार्यवाही करते हुए जयपुर स्थित नायला और महला आवासीय योजनाओं के 5800 कमरों को क्वारेंटाइन सेंटर के रूप में विकसित करने का काम युद्धस्तर पर शुरू कर दिया। उन्होंने बताया कि प्रत्येक फ्लैट के लिए पृथक से पानी की टंकी हो, इसके लिए 2200 पानी की टंकिया क्रय की गई हैं और इन्हें लगवाना शुरू कर दिया गया है। इसके साथ ही प्रत्येक आवास में 3 पंखे लगवाए जाएंगे, जिसके लिए 6500 पंखे खरीद कर, लगवाना शुरू कर दिए हैं। इन आवासों में रोशनी की पर्याप्त व्यवस्था के लिए 16 हजार  एलईइडी बल्ब क्रय कर लिए गए हैं, जिनमें से 4 हजार बल्ब बुधवार को लगा दिए गए हैं। इन आवासों के बाथरूमों को दुरूस्त किया जा रहा है, जिसके लिए 4500 नल फिटिंग क्रय कर, लगाने का कार्य प्रगति पर हैं। प्रत्येक बाथरूम में बाल्टी और मग की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए 5 हजार बाल्टिंया और 5 हजार मग क्रय कर लिए गए हैं।


उन्होंने बताया कि यह कार्य महज 24 घंटे में किया गया है, आगामी 7 दिनों में इन आवासों को पूर्ण रूप में क्वारेंटाइन सेंटर के रूप में तैयार कर लिया जाएगा। यह सेंटर समय पर तैयार हो सके, इसके लिए पर्याप्त संख्या में स्टाफ की ड्यूटी लगाई गई है। आयुक्त ने स्वयं एक-एक कमरे का निरीक्षण किया और स्वयं की देख-रेख में इन आवासीय योजनाओं में साफ-सफाई सहित अन्य आवश्यक व्यवस्थाएं करवाई। उन्होंने बताया कि इन योजनाओं में करीब 200 फ्लैट रोज तैयार कर कर लिए जाएंगे, जहां आवश्यकतानुसार परिवारों को शिफ्ट किया जाए सकेंगा।


उल्लेखनीय है कि आयुक्त पवन अरोड़ा ने बुधवार को चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा, परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास, मुख्य सचेतक राजस्थान विधानसभा महेश जोशी, विधायक अमीन कागजी और रफीक खान के साथ नायला स्थित आवासीय योजना का निरीक्षण किया और इनको यहां तैयार किए जा क्वारेंटाइन सेंटर की व्यवस्थाओं के सम्बंध में जानकारी दी। सभी जनप्रतिनिधियों ने अल्प समय में यहां बेहतरीन व्यवस्थाओं के साथ तैयार किए जा रहे क्वारेंटाइन सेंटर की सराहना की।


अरोड़ा ने बताया कि मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए स्लोगन ‘राजस्थान सर्तक है‘ ‘राजस्थान सुरक्षित है‘ की भावना के अनुरूप इन आवासीय योजना में तैयार किए जा रहे क्वारेंटाइन सेंटरों में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा चिन्हित लोगों को रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि मंडल के कर्मचारी और अधिकारियों ने भी कोरोना के खिलाफ जंग में अल्प समय में क्वारेंटाइन सेंटर विकसित कर कोरोना वाॅरियर्स के रूप में किया है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि इस बीमारी के संक्रमण को रोकने में हम कामयाब होंगे और प्रदेश को इससे जल्द राहत मिलेगी। इस अवसर पर उनके साथ राजस्थान आवासन मंडल के मुख्य अभियंता के.सी. मीणा, अतिरिक्त मुख्य अभियंता नत्थू राम, उप आवासन आयुक्त अमित अग्रवाल, आवासीय अभियंता प्रतीक श्रीवास्तव सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।