आरोग्य सेतु एप को 10 करोड़ लोगों ने किया डाउनलोड

जयपुर। सरकार द्वारा कोविड-19 से मुकाबला करने के लिए ‘आरोग्‍य सेतु’ मोबाइल एप की शुरुआत की गई है। यह एप प्रत्‍येक भारतीय के स्वास्थ्य और कल्याण के लिए डिजिटल इंडिया की पहल है। आरोग्‍य सेतु एप जानकारी देता है कि आपके आसपास के क्षेत्र में कोरोना संक्रमित कोई व्यक्ति रह रहा है या नहीं। भारत सरकार द्वारा फीचर फोन व लैण्ड लाइन फोन उपयोगकर्ताओं के लिए आरोग्य सेतु आईवीआरएस सेवा शुरू की गई है। आईवीआरएस सेवा के लिए 1921 टोल फ्री नम्बर पर फीचर फोन या लैण्ड लाइन फोन से मिस्डकॉल देनी होगी। इस एप पर कोई भी व्यक्ति आसानी से अपनी भाषा का चुनाव कर सकते हैं।


इसके बाद आरोग्य सेतु एप पर किसी अन्य एप की तर्ज पर ही प्रश्न पूछे जाएंगे। संबंधित व्यक्ति को एक एसएमएस प्राप्त होता है, इसमें संबंधित व्यक्ति के हेल्थ स्टेटस के बारे में बताया जाएगा। इसके बाद भी समय समय पर व्यक्ति को हेल्थ अलर्ट्स सिस्टम द्वारा एसएमएस भेजे जाएंगे। देश में लगातार लोगों द्वारा आरोग्य सेतु एप डाउनलोड किया जा रहा है। अब तक आरोग्य सेतु एप को 10 करोड़ लोगों ने डाउनलोड कर लिया है। सरकार द्वारा भी सभी को आरोग्य सेतु एपडाउनलोड करने की सलाह दी जा रही हैं जिससे कोरोना के संक्रमण से बचा जा सके।


आमजन को कोरोना वायरस संक्रमण के बारे में जागरूक करने और नजदीकी खतरों से आगाह करने में आरोग्य सेतु एप बड़ी भूमिका निभा रहा है। बूंदी के जिला सूचना विज्ञान अधिकारी अनिल भाल ने बताया कि बूंदी जिले में अब तक 54 हजार 168 लोग यह एप अपने मोबाइल फोन में इंस्टाल कर चुके हैं।बूंदी के श्री प्रतीक जैन ने बताया कि उन्होंने अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड किया है और वे अपने साथ-साथ सभी को स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहने के लिए आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करने के लिए निरंतर प्रेरित कर रहे हैं।