किसानों को मिले उपज का समर्थन मूल्य, लालसोट कृषि उपज मंडी होगी शीघ्र चालू: उद्योग मंत्री
 

उपजिला कलक्टर जरूरतमंदों को राशन किट उपलब्ध करावे

 

जयपुर, 2 मई। प्रदेश के उद्योग एवं राजकीय उपक्रम मंत्री परसादी लाल मीना ने कहा कि दौसा जिले में किसानों की उपज को समर्थन मूल्य पर खरीदने के लिये आवश्यक व्यवस्थाये सुनिश्चित करे तथा लालसोट कृषि उपज मंडी को 4 मई से खुलवाये ताकि किसानों  को लाभ मिल सके। जिन क्षेत्रों में खरीद केन्द्र स्थापित नही किये है उनके प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजे तथा शीघ्रता से चालू करवाने की व्यवस्था करावे।

 

शनिवार को दौसा जिले के कलेक्टेट सभा भवन में आयोजित बैठक को संबोधित करते हुये उद्योग मंत्री ने यह बात कही। उन्होने कहा कि  लालसोट में मंडी चालू करवाने के साथ ही  रामगढ पचवारा व राहुवास में गेंहू, सरसों व चने के खरीद केन्द्र खुलवाने की व्यवस्था करे ताकि किसानों को अपने नजदीक ही खरीद केन्द्र पर अपनी उपज बेचने का लाभ मिल सके। इसके अलावा भी जिले के बडे कस्बे जिनमें खरीद केन्द्र नही बनाये गये है वहां पर भी खरीद केन्द्र चालू करवाने के लिये राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजे तथा शीघ्रता से चालू करवाने की व्यवस्था करावे।

 

उन्होने कहा कि समर्थन मूल्य पर खरीद के लिये बनाये गये केन्द्रों पर किसानों के लिये आवश्यक व्यवस्थाये करवाने तथा समय पर भुगतान करवाना भी सुनिश्चित करे। उन्होने कहा कि लालसोट, मण्डावरी, रामगढ पचवारा व राहुवास में गेंहू ,सरसों व चने की खरीद के लिये केन्द्र स्थापित करे। गेंहू की खरीद एफसीआई द्वारा तथा सरसों व चने की खरीद राजफैड द्वारा की की जायेगी।  उन्होने कहा कि किसानों को गिरदावरी की रिपोर्ट देने के लिये सभी हल्का पटवारियों को मुख्यालय पर रहने के लिये पाबन्द करे ताकि किसानों को इधर उधर चक्कर नही लगाने पड़े।

 

कृषि उपज मंडी व किसान खरीद केन्द्र पर सोशल डिस्टेसिंग की पालना करावे

उद्योग मंत्री परसादी लाल मीना ने कहा कि कृषि उपज मंडी व किसान खरीद केन्द्रों पर सोशल डिस्टेसिंग की पालना करावे ताकि कोरोना वायरस से भी बचा जा सके। मंडी या खरीद केन्द्र पर आने के लिये किसानों को जारी किये जाने वाले कूपनों पर पूर्ण नियंत्रण रखे तथा संख्या का पूरा पूरा ध्यान रखा जावे। किसानों के लिये मास्क लगाने, हैंड सैनेटाइजर, साबून से हाथ धोने, मंडी प्रागंण को सैनेटाइजर करवाने तथा आमजन में एडवाइजरी की पालना करवाने के लिये चेतना जागृत करने का भी कार्य करे।

 

बाहर से आने वाले श्रमिकों पर पूर्ण निगरानी रखें

उद्योग मंत्री ने कहा कि अन्य प्रदेशों से आने वाले अपने जिले के श्रमिकों पर पूर्ण निगरानी रखें तथा सभी की जांच करवाने के बाद होम आईसोलेशन में रखने की पूरी पूरी व्यवस्था करावे तथा निगरानी के लिये स्थानीय कार्मिक नियुक्त करे।

 

ग्रामीण क्षेत्रों में दुकाने खोलें लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग की पालना जरूरी

उद्योग मंत्री परसादी लाल मीना ने कहा कि दौसा जिले के गामीण क्षेत्रों में दुकाने खोलें लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग की पालना जरूरी है। इसके लिये संबंधित उप जिला कलक्टर व उप पुलिस अधीक्षक क्षेत्र में भ्रमण कर दुकानदारों व ग्राहको में चेतना जागृत करने व संदेश देने का कार्य करावे ताकि ग्रामीण जनता को आवश्यकता के घरेलू सामान उचित मूल्य पर मिल सके। ग्रामीण क्षेत्रों में दुकाने नही खुलने से कालाबाजारी बढ रही है इस पर निंयत्रण के लिये दुकानें खुलना जरूरी है।

 

खाद्य सामग्री का वितरण समय पर करावे

उद्योग मंत्री ने कहा कि दौसा जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में खाद्य सामग्री का वितरण समय पर करावे तथा जिन पात्र व्यक्तियों को किसी कारणवश खाद्य सामग्री नही मिल पा रही है येसे गरीब व मजदूरों को राशन किट वितरण करवाने की व्यवस्था उपखण्ड अधिकारी व विकास अधिकारी द्वारा करवाई जायेगी। उन्होने कहा कि जिले में कोई व्यक्ति भूखा नही सोये इसके लिये पुख्ता व्यवस्था करावे। जिले में भामाशाहो, दानदाताओं व स्वयसेवी संस्थाओं आदि ने गरीबों को सहयोग करने मे कोई कमी नही छोडी है। इसके अलावा विधायक कोष से भी खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाने की व्यवस्था की गई है।

 

दौसा जिले में स्वीकृत 5 पीएचसी चालू करवाने के दिये निर्देश

उद्योग मंत्री परसादी लाल मीना ने कहा कि जिले के गामीण क्षेत्रों में में आमजन को चिकित्सा सुविधाये उपलब्ध करवाने के लिये राज्य सरकार द्वारा स्वीकृत की गई सभी 5 पीएचसी को शीघ्र चालू करवाने के लिये मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी शीघ्रता से कार्य करे तथा जिन जिन चिकित्सा संस्थानों में किसी भी प्रकार के उपकरणों की आवश्यकता हो, सूची बनाकर प्रस्तुत करे ताकि विधायक कोष से स्वीकृति जारी की जा सके। उन्होने कहा कि आमजन को समय पर आवश्यक सुविधाये उपलब्ध करवाने के लिये सभी अधिकारी कर्मचारी सक्रिय रह कर कार्य करे।

 

बैठक में उद्योग मंत्री परसादी लाल मीना ने कहा कि  जिले में कोरोना वायरस पर नियंत्रण पाने में जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, चिकित्सा विभाग सहित अन्य विभागों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों का महत्वपूर्ण योगदान रहा है।उन्हाने सभी के कार्यो की प्रशंसा करते हुये कहा कि अभी कोरोना पर पूर्ण नियंत्रण नही हुआ है। सभी अधिकारी व कर्मचारी पूर्ण सुरक्षा के साथ कार्य करे तथा बाहर से आने वाले लोगों पर निगरानी रखे। 

 

बैठक में दौसा जिला कलक्टर अविचल चतुर्वेदी ने कोरोना वायरस, किसान खरीद केन्द्र, मंडी चालू करवाने, ग्रामीण क्षेत्रों में दुकाने खुलवाने, खाद बीज की दुकाने खुलवाने सहित विभिन्न गतिविधियों के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक प्रहलाद सिंह कृष्णियां ने पुलिस प्रशासन द्वारा संचालित गतिविधियों के बारे मे जानकारी दी । मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पी एम वर्मा ने कोरोना वायरस पर नियंत्रण व विकित्सा सुविधाओं के बारे में अवगत करवाया।