प्रधानमंत्री जनधन योजना की दूसरी किस्त से अनेक परिवारों को राहत

जयपुर। देश में कोरोनो संक्रमण की रोकथाम के लिए जारी लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंद लोगों को सहायता उपलब्ध करने के उद्देश्य से शुरू की गई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत गरीब महिलाओं के जनधन खातों में 500 रु की दूसरी किस्त आने से कई परिवारों को राहत मिली है। बैंकों में अपना पैसा निकालने आई महिला लाभार्थियों के अनुसार यह मदद उस समय मिली है जब लॉकडाउन के कारण उनके परिवार में कमाने वाले लोग काम-धंधे नहीं होने के कारण घर बैठ गए थे। अब काम-काज फिर शुरू होने और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के तहत सहायता मिलने से जीवन धीरे-धीरे पटरी पर लौट रहा है।   


राज्य की अनेक महिलाओं ने आड़े वक्त मिली इस सहायता के लिए सरकार और विशेष तौर पर प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया है। सवाई माधोपुर की आबिदा का कहना है कि उसे मिले 500 रु से घर खर्च चलाने में सहायता मिली है। श्रीगंगानगर की आरती राव ने जनधन खाते में दो बार 500 रु प्राप्त होने पर राहत महसूस करते हुए सरकार का धन्यवाद किया है। इससे उन्हें तथा उनके परिवार को कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने में संबल मिला है। करौली की तुलसा का कहना है कि जनधन खाते में मिले पैसे से इस विकट परिस्थिति में घर चलाने में मदद मिली है। करौली की ही मुनाली ने इस पैसे का इस्तेमाल घर का जरूरी सामान खरीदने में किया।


प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पैकेज के अंतर्गत राजस्थान में महिला लाभार्थियों के जन धन खातों में पिछले सप्ताह ही दूसरी किस्त की राशि जमा करवाई गई है। प्रदेश में कुल एक करोड़ 56 लाख 44 हजार 473 महिलाओं के जन धन खातों में पाँच-पाँच सौ रुपए की राशि जमा करवाई गई। इस बार खातों से पैसे निकालने के लिए खाता नंबर के अंतिम अंक के आधार पर अलग-अलग दिन धन निकासी की व्यवस्था की गई ताकि बैंकों में भीड़ न लगे और सोशल डिस्टेन्सिंग बनी रहे।