राजस्थान से 33 श्रमिक स्पेशल रेलगाड़ियों से 39 हजार से अधिक प्रवासी श्रमिकों और विद्यार्थियों को उनके गृह राज्य भेजा गया

चार विशेष रेलगाड़ियों से अन्य राज्यों में फसें 4600 लोग राजस्थान पहुंचे 


जयपुर। राजस्थान से 33 श्रमिक स्पेशल रेलगाड़ियों से 39 हजार 500 से अधिक प्रवासी श्रमिकों और विद्यार्थियों को उनके गृह राज्य भेजा गया है। इनमें से 19 श्रमिक स्पेशल रेलगाड़ियां उत्तर पश्चिम रेलवे की ओर से चलायी गईं जबकि 14 विशेष रेलगाड़ियां पश्चिम मध्य रेलवे की ओर से संचालित की गई। उत्तर पश्चिम रेलवे द्वारा चलायी गई विशेष रेलगाड़ियां से 22 हजार 500 से अधिक श्रमिकों, विद्यार्थियों तथा अन्य फँसे हुए लोगों को उनके गंतव्य स्थान तक पहुंचाया गया। पश्चिम मध्य रेलवे द्वारा चलायी गई 14 विशेष रेलगाड़ियां से 16 हजार 500 से अधिक व्यक्तियों को उनके गृह राज्य भेजा गया। इनमें अधिकांश कोचिंग संस्थानों में पढ़ने वाले विद्यार्थी थे। इसके अलावा अन्य राज्यों से राजस्थान पहुँची विशेष रेलगाड़ियों से वहाँ फँसे क़रीब 4600 लोगों को राजस्थान लाया गया।  


उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रवक्ता से मिली जानकारी के अनुसार इस जोन में आने वाले मंडलों से जो रेलगाड़ियां संचालित की गईं उसमें 12 बिहार के लिए, चार मध्य प्रदेश के लिए तथा एक-एक झारखंड, पश्चिम बंगाल और आँध्र प्रदेश के लिए चलायी गई। पश्चिम मध्य रेलवे की प्रवक्ता के अनुसार जोन के कोटा मंडल की ओर से 14 विशेष रेलगाड़ियों का संचालन किया गया जिनमें 12 बिहार के लिए और दो झारखंड के लिए रवाना हुईं। इन सभी रेलगाड़ियों में यात्रियों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए पुख़्ता इंतज़ाम किए गए।  रेलगाड़ियों में चढ़ने से पहले प्रत्येक यात्री की स्क्रीनिंग की गई। श्रमिक स्पेशल रेलगाड़ियों के संचालन में राजस्थान सरकार का सक्रिय सहयोग रहा। राज्य सरकार की माँग के अनुरूप इन रेलगाड़ियों का संचालन किया गया। इस दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी सभी दिशा-निर्देशों का पालन किया गया।  


उत्तर पश्चिम रेलवे की ओर से जो विशेष रेलगाड़ियां चलायी गई उनमें जयपुर से पटना, जयपुर से कटिहार, रेवाड़ी से खगड़िया, रेवाड़ी से कटिहार, रेवाड़ी से मुज़फ़्फ़रपुर, उदयपुर से मुज़फ़्फ़रपुर, उदयपुर से हाजीपुर, हिसार से कटिहार, हिसार से मुज़फ़्फ़रपुर, नागौर से हटिया, अजमेर से देंकनि, अजमेर से पूर्णिया, आबूरोड से विशाखापट्टनम, रेवाड़ी से सागर, रेवाड़ी से छतरपुर, भिवानी से पूर्णिया, भिवानी से छतरपुर, बाड़मेर से मोतिहारी और भिवानी से छतरपुर शामिल है। पश्चिम मध्य रेलवे ज़ोन की ओर से संचालित श्रमिक स्पेशल गाड़ियां हैं:- कोटा से सीवान, आरा, बरौनी, मोतिहारी, दरभंगा, दानापुर, कटिहार, मुज़फ़्फ़रपुर, बिहार शरीफ़ और सहरसा। इसके अलावा कोटा से ही धनबाद और हटिया के लिए विशेष रेलगाड़ी चलायी गई। अन्य राज्यों से राजस्थान आने वाली गाड़ियों में महाराष्ट्र के दहानु रोड से जयपुर, भिवंडी रोड से जयपुर, कर्नाटक के बेंगलुरू से जयपुर और तेलंगाना के बोलारम से जोधपुर श्रमिक एक्सप्रेस शामिल है।