बारां खबरे फटाफट
वॉर रूम की बैठक आयोजित

बारां। जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव की अध्यक्षता में कोरोना संकट के तहत दैनिक वॉर रूम की बैठक मिनी सचिवालय सभागार में आयोजित हुई। बैठक में कोरोना संकट के तहत रोकथाम, जीरो मोबिलिटी क्षेत्र, सेनेटाईजेशन आदि के संबंध में चर्चा कर संबंधित को निर्देश दिए गए।


कलक्टर राव ने कहा कि कोरोना संकट के तहत दिल्ली व मुम्बई जैसे बड़े शहर काफी प्रभावित हुए है साथ ही कोरोना पोजिटिव रोगियों की रिकवरी का प्रतिशत भी काफी अच्छा है अतः इस संक्रमण से बचाव के उपाय अपनाकर ही इसकी रोकथाम संभव है। सीएमएचओ डॉ. संपतराज नागर ने बताया कि जिले के अधिकतम कोरोना पोजिटिव के रोगी रिकवर हो चुके है वर्तमान में सिर्फ 4 केस है जिसमें से 3 कोरोना पोजिटिव कोटा में और 1 आमापुरा कोविड केयर सेन्टर में है साथ ही उन्होंने बताया कि रेण्डम सेम्पलिंग का कार्य किया जा रहा है।


कलक्टर राव ने मेला ग्राउंड क्षेत्र से दुकानों को आदि से रेण्डम सेम्पल लेने के निर्देश दिए। इसी क्रम में नगर परिषद को सहरिया छात्रावास एवं देवनारायण छात्रावास को सेनेटाईज करने के निर्देश दिए गए। शिक्षा विभाग ने बताया कि 18 जून से बोर्ड परीक्षाएं है जिसके तहत परीक्षा केन्द्रों पर विद्युत आपूर्ति सुचारू रहनी चाहिए इस पर कलक्टर राव ने विद्युत विभाग को निबार्द्ध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने एवं जिले में झूलते विद्युत तारों को उंचा करने के निर्देश दिए। कृषि विभाग के अधिकारी ने बताया कि जिले में टिड्डी दल ने बायला व भोज्याखेड़ी में प्रवेश किया था जिस पर रसायन का छीड़काव किया गया वर्तमान में टिड्डी दल जिले से पलायन कर चुका है।


पुलिस अधीक्षक डॉ. रवि सबरवाल ने कोरोना आपदा से बचाव हेतु सुरक्षा मानकों की पालना करने एवं अन्य लोगों को जागरूक करने की बात कही। इस अवसर पर एडीएम मोहम्मद अबूबक्र, सीईओ जिला परिषद बृजमोहन बैरवा सहित कई अधिकारीगण मौजूद थे।


 

किसान को लाभ मिले, मानसून के मद्देनजर एमएसपी पर खरीद हेतु दिए निर्देश: - कलक्टर

जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव ने कहा कि मानसून के मद्देनजर किसान की जिंस की सुरक्षित खरीद को सुनिश्चित किया जाना चाहिए जिससे उसे किसी प्रकार का नुकसान न हो।


कलक्टर राव सोमवार को अपने कार्यालय कक्ष में एमएसपी पर खरीद संबंधी समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मानसून के मद्देनजर जिन खरीद केन्द्रों पर टीनशेड सहित आवश्यक व्यवस्थाएं पूर्ण नहीं है उनको अन्य केन्द्रों के साथ मर्ज किया जाना चाहिए जिससे काश्तकारों की जिंस पूर्व में जारी टोकन के अनुसार सुरक्षित तौर पर खरीद व उठाव किया जा सके। सीईओ जिला परिषद बृजमोहन बैरवा ने बताया कि जिले में एमएसपी पर खरीद के 78 हजार मैट्रिक टन के लक्ष्य के विरूद्ध अब तक लगभग 75 हजार मैट्रिक टन की खरीद की जा चुकी है इसी क्रम में काश्तकारों के हित में पूर्व में जारी टोकन के तहत जिंस की खरीद की जाएगी।


बैठक में पंचायत समिति क्षेत्र मांगरोल के तहत मांगरोल में बमोरीकलां के खरीद केन्द्र को मर्ज किया गया है एवं किशनपुरा में सीसवाली के खरीद केन्द्र को मर्ज किया गया है। इसी क्रम में पंचायत समिति अन्ता के तहत पाटूंदा का केन्द्र यथावत है एवं खजूरनाकलां, पलायथा, ठिकरिया, मिर्जापुरा के खरीद केन्द्रों को अन्ता के खरीद केन्द्र में मर्ज किया गया है। पंचायत समिति किशनगंज के तहत सुभाषघट्टी, खण्डेला, उम्मेदपुरा व शोभागपुरा के केन्द्रों को नाहरगढ़ के खरीद केन्द्र में मर्ज किया गया हैै इसी क्रम में पंचायत समिति शाहबाद के खरीद केन्द्र केलवाड़ा, देवरी, कस्बानोनेरा व खुशियारा को बारां एफसीआई के खरीद केन्द्र के तहत शामिल किया गया है। छबड़ा में कोलूखेड़ा व बापचा के खरीद केन्द्र को शामिल किया गया है एवं छीपाबड़ौद के राजफेड के खरीद केन्द्र में गुलखेड़ी व मोखमपुरा के खरीद केन्द्रो को शामिल किया गया है। अटरू में सहरोद, कटावर, बड़ौरा एवं अटरू के खरीद केन्द्र यथावत रहेंगे।


कलक्टर राव ने समस्त उपखंड अधिकारियों को नई व्यवस्था के तहत मर्ज किए गए खरीद केन्द्रों पर पूर्व में जारी टोकन वाले काश्तकारों को अपना गेहूं भिजवाने की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश प्रदान किए है। साथ ही सभी खरीद एजेंसियों को मानसून की वर्षा के मद्देनजर काश्तकारों की जिंस की खरीद के साथ प्रतिदिन जिसं का उठाव करते हुए वेयरहाउस में भण्डारण करने, खरीद केन्द्रों पर शेड, तिरपाल, बारदाने की व्यवस्था के संबंध में निर्देश प्रदान किए। इस अवसर पर राजफेड, तिलम संघ, एफसीआई के प्रतिनिधि, डीएसओ आदि मौजूद थे।


स्वच्छ परियोजना कार्मिकों ने किया सहयोग मुख्यमंत्री सहायता कोष में साढे तीन लाख का चेक सौंपा

कोरोना आपदा के तहत जनजातीय क्षेत्रीय विकास विभाग के तहत जिले में कार्यरत स्वच्छ परियोजना शाहबाद द्वारा संचालित स्वच्छ परियोजना के कर्मचारी एवं मां बाड़ी के सहरिया शिक्षा सहयोगियों द्वारा तीन लाख 47 हजार 405 रूपए की सहयोग राशि एकत्रित कर जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव को मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिए चेक प्रदान किया। इस अवसर पर स्वच्छ परियोजना के प्रोजेक्ट ऑफिसर इंद्रजीत सिंह सोलंकी, सहायक अभियंता गीता प्रसाद, समन्वयक शिव शंकर, दशरथ बैरवा, मां बाड़ी शिक्षा सहयोगियों के प्रतिनिधि इंद्रलाल सहरिया, सुरेश चंद्र सहरिया एवं समस्त स्टाफ उपस्थित थे।


बाढ़ नियंत्रण कक्ष स्थापित

जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव के निर्देशानुसार आपदा प्रबंधन नियंत्रण कक्ष (ई.ओ.सी.) में बाढ़ नियंत्रण कक्ष 15 जून 2020 से स्थापित किया गया है। बाढ़ नियंत्रण कक्ष के प्रभारी सहायक निदेशक उद्यान विभाग बारां नन्दबिहारी मालव तथा सहायक प्रभारी सांख्यिकी अधिकारी रामचरण मीणा होंगे। बाढ़ नियंत्रण कक्ष जिला कलेक्ट्रेट के कमरा नंबर 10 में 24 घंटे तीन परियों में कार्य करेगा। जिला आपदा प्रबंधन बाढ नियंत्रण कक्ष के दूरभाष नंबर 07453-237081 टोल फ्री नंबर 1077 होंगे।