प्रदेश में कोरोना मरीजों के ठीक होने की दर 67.26  प्रतिशत

जयपुर। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं पाजिटिव मरीजों के इलाज की समुचित व्यवस्था उपलब्ध करायी जा रही है। प्रदेश में कोरोना मरीजों के ठीक होने की दर सर्वाधिक 67.26 प्रतिशत है। समुचित उपचार व्यवस्था सुनिश्चित की गई है एवं कोरोना मृत्यु दर 2.2 प्रतिशत है।


चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डा. रघु शर्मा ने बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति नियंत्रण में है। कोरोना के अलावा अन्य बीमारियों के मरीजों को स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिये चिकित्सा विभाग ने पहले जयपुरिया अस्पताल को कोरोना फ्री घोषित किया। इसके बाद अब एक जून से एसएमएस अस्पताल को कोरोना फ्री घोषित किया गया है। उन्होंने बताया कि एसएमएस अस्पताल के चरक भवन में चल रही ओपीडी को भी शीघ्र फार्मेसी कालेज में शिफ्ट किया जाकर यहां नेत्र एवं चर्म रोग सेवायें वापस से सुचारू की जायेंगी।


डॉ. शर्मा ने बताया कि कोरोना के लिये आरयूएचएस अस्पताल को चिन्हित कर वहां पर केवल कोरोना मरीजों का इलाज किया जा रहा है। एसएमएस अस्पताल के चिकित्सक भी वहां सेवायें देंगे। उनके परिवहन के लिये बस भी संचालित की जायेगी।