राजस्थान विधानसभा में चार समितियों का गठन: डॉ. सीपी जोशी
जयपुर।  राजस्थान विधानसभा के अध्यक्ष डॉ.सीपी जोशी ने राजस्थान विधानसभा की जन लेखा समिति,  प्राक्कलन समिति ‘‘क‘‘ व ‘‘ख‘‘ और राजकीय उपक्रम समिति का गठन किया है।  इन समितियों का कार्यकाल 31 मार्च 2021 तक होगा।

 

अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने राजस्थान विधानसभा के प्रक्रिया तथा कार्य संचालन संबंधी नियमों के नियम 183 (1) के तहत गुलाबचंद कटारिया को जन लेखा समिति का सभापति, राजेंद्र पारीक को प्राक्कलन समिति ‘‘क‘‘, दयाराम परमार को प्राक्कलन समिति ‘‘ख‘‘ और हेमाराम चौधरी को राजकीय उपक्रम समिति का सभापति नियुक्त किया है।

 

राजस्थान विधानसभा के सचिव प्रमिल कुमार माथुर द्वारा जारी इस आशय की अधिसूचना के अनुसार जन लेखा समिति में गुलाबचंद कटारिया, परसराम मोदरिया, विनोद कुमार, गुरमीत सिंह कुन्नर, मेवाराम जैन, जाहिदा खान, मुरारी लाल, कालीचरण सराफ, वासुदेव देवनानी, मदन दिलावर, निर्मल कुमावत, संयम लोढा, महादेव सिंह और गोपाल लाल मीना को सदस्य बनाया गया है।

 

इसी प्रकार प्राक्कलन समिति ‘‘क‘‘ में राजेंद्र पारीक, भरोसी लाल, बिधूरी राजेंद्र सिंह,  हरीश चंद्र मीना, पानाचंद मेघवाल, जोहरी लाल मीना, जोगेश्वर गर्ग, चंद्रकांता मेघवाल, सुरेंद्र सिंह राठौड़, अभिनेश महर्षि, चंद्रभान सिंह आक्या, राजेंद्र सिंह गुढा, राजकुमार गौड़ और रामकेश को शामिल किया गया है।

 

प्राक्कलन समिति  ‘‘ख‘‘ में  दयाराम परमार, खुशवीर सिंह, गजेंद्र सिंह शक्तावत, गोविंद राम , ज्ञानचंद पारख, नरपत सिंह राजवी,  पदमा राम , पुष्पेंद्र सिंह, प्रताप सिंह, बलजीत यादव, बाबूलाल, लाखन सिंह, सतीश पूनिया और सफिया जुबेर को सदस्य बनाया गया है।

 

राजकीय उपक्रम समिति में हेमाराम चौधरी मदन प्रजापत, जगदीश चंद्र , रुपाराम , वीरेंदर सिंह, निर्मला सहरिया, राजेंद्र राठौड़, किरण महेश्वरी, रामलाल शर्मा, विट्ठल शंकर अवस्थी, रामप्रताप कासनिया, कांति प्रसाद और लक्ष्मण मीणा को सदस्य बनाया गया है।