श्रम राज्य मंत्री ने किया कोरोना वॉरियर्स का सम्मान

जयपुर। श्रम राज्य मंत्री टीकाराम जूली ने कहा कि संकट के इस समय में समाज का प्रत्येक वह व्यक्ति सम्मान करने के योग्य है जो कोरोना वॉरियर्स के रूप में जो अपने जीवन को जोखिम में डालकर जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं। 

 

श्रम राज्य मंत्री जूली बुधवार नीमराणा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन की ओर से रीको औद्योगिक क्षेत्र में  स्थित ईपीआईपी पार्क में स्थित रीको कार्यालय में कोरोना योद्धाओं के लिए आयोजित सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कहा कि कोरोना संक्रमण पूरी मानवता के लिए चुनौती बन रहा है। इसलिए कोरोना से जंग में अग्रिम पंक्ति के योद्धा बनकर लड़ रहे सभी सरकारी व गैर सरकारी व्यक्ति सम्मान के पात्र है। 

 

उन्होंने कहा कि नीमराणा औधोगिक क्षेत्र  दिल्ली-जयपुर के बीच स्थित होने से यहां लोगों की आवाजाही अधिक रहती है जिसके कारण यहां कोरोना संक्रमण का खतरा अधिक है। उन्होंने कहा कि लोक डाउन के दौरान से यहां भामाशाहों व औद्योगिक इकाइयों के साथ कोरोना वॉरियर्स के रूप में डॉक्टर्स, नर्सिंग स्टाफ, पुलिस व प्रशासन के साथ स्वयंसेवकों तथा सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों का अभूतपूर्व सहयोग निरन्तर मिलता रहा है । उन्होंने कहा कि प्रवासी मजदूरों के खाने-पीने के सामान सहित प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने में इनका बहुत बड़ा योगदान रहा है। 

 

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना वॉरियर्स के सहयोग व जागरूकता से  इतना बड़ा औद्योगिक क्षेत्र संकट के इस दौर में कोरोना संक्रमण से बचा रहा है। इस क्षेत्र में कोरोना के मरीज बहुत कम मिले हैं। अब जबकि सरकार ने लॉकडाउन में ढील दी है। तब इस क्षेत्र में लोगों का अन्य राज्यो से आवागमन और बढ़ रहा है इसलिए आने वाले सयम में भी हमें और अधिक सतर्कता बरतने की जरूरत है। समारोह में श्रम राज्यमंत्री ने कोरोना वॉरियर्स के रूप में कार्य कर रहे चिकित्सक, औद्योगिक क्षेत्र के प्रतिनिधि एवं पत्रकारों को प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर नीमराणा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री के.के शर्मा व सचिव श्री के.जी कौशिक ने एसोसिएशन की तरफ से श्रम राज्य मंत्री का साफा भेंट कर सम्मान किया। 

 

श्रम राज्य मंत्री ने किया पौधारोपण 

श्रम राज्यमंत्री ने रीको औद्योगिक क्षेत्र में स्थित ईपीआईपी पार्क में पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि पर्यावरण संतुलन में वृक्षों की सबसे अहम भूमिका है। उन्होंने कहा कि आर्थिक गतिविधियों के साथ वानिकी गतिविधियां आवश्यक है।  

 

इस अवसर पर नीमराणा उपखण्ड अधिकारी रामसिंह राजावत, तहसीलदार रविकांत, डीएसपी नवाब खान, रीको के वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबंधक एससी गर्ग उपस्थित थे।