मंगलवार तक 86 उड़ानों से 14 हजार से अधिक प्रवासी राजस्थानी जयपुर पहुंचे
जयपुर। मंगलवार तक 86 उड़ानों से विदेशों में फंसे 14 हजार 200 से अधिक प्रवासी राजस्थानी जयपुर आ चुके हैं। अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि बुधवार को जयपुर एयरपोर्ट पर पांच फ्लाइटों से करीब 595 प्रवासी राजस्थानी जयपुर पहुंच रहे हैं। बुधवार को देर रात तक कुवैत से दो और यूक्रेन, सउदी अरब और दोहा से एक एक फ्लाइट से विदेशों में फंसे प्रवासी राजस्थानी जयपुर पहुंच जाएंगे। बुधवार को सुबह यूक्रेन से जयपुर एयरपोर्ट पहुंची फ्लाइट से 95 प्रवासी राजस्थानी जयपुर आए। गौरतलब है कि विदेशों में फंसे प्रवासी राजस्थानियों को लेकर पहली फ्लाइट लंदन से 149 प्रवासी राजस्थानियों को लेकर 22 मई को आई थी।

 

अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. अग्रवाल ने बताया एयरसेल के समन्वय और प्रयासों का ही परिणाम है कि प्रवासी राजस्थानियों को लेकर अब जयपुर एयरपोर्ट पर अधिक उड़ाने आने लगी हैं। एयरपोर्ट से आवश्यक कार्यवाही के बाद प्रवासी राजस्थानियों को संस्थागत क्वारंटाइन के लिए भेजा जा रहा है। राजस्थान रोड़वेज की बसों से प्रवासियों को संबंधित जिलों में भी भेजकर वहां जिला प्रशासन से समन्वय बनाते हुए संस्थागत क्वारंटाइन की व्यवस्था की गई है। एयरसेल द्वारा नियमित रुप से व्यवस्थाओ की समीक्षा की जा रही है।

 

डॉ. अग्रवाल ने बताया कि एयरपोर्ट पर अधिकारियों की टीम पूरी मुस्तैदी से व्यवस्थाओं को सुनिश्चित कर रही है। एयरपोर्ट पर उड़ानों के आने के समय संयुक्त निदेशक मेडिकल डॉ. एस के भण्डारी, उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. निर्मल जैन, डॉ. धनेश्वर शर्मा और इनकी पूरी मेडिकल टीम द्वारा थर्मल स्केनिंग से लेकर मेडिकल चेक अप तक की सेवाएं दे रही है।

 

जयपुर एयरपोर्ट पर क्वारंटाइन अधिकारी बीसी गंगवाल, उपनिदेशक पर्यटन उपेन्द्र सिंह शेखावत और इनकी टीम व रीको की डीजीएम तरुण जैन, जयपुर विकास प्राधिकरण के अधिकारी अवधेश सिंह आदि द्वारा संस्थागत क्वांरटाइन की व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जा रही हैं। जेडीए, जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन के अधिकारी एयरपोर्ट में व्यवस्थाओं को देख रहे हैं। अन्य जिलों के प्रवासियों को राजस्थान रोडवेज की बसों से क्वांरटाइन के लिए संबंधित जिलों में भेजा जा रहा है।

 

निदेशक सिविल एविएशन कैप्टन केसरी सिंह ने बताया कि एयरपोर्ट पर अधिक फ्लाइटों को उतारने और अधिक से अधिक राजस्थानी प्रवासियाें को स्वदेश लाने की व्यवस्थाएं चाकचोबंद की जा रही है। एयरपोर्ट पर कोविड 19 की जागरुकता से संबंंधित स्टेडिंग भी लगाई गई है।