आनंद वर्धन शुक्ल भारत तिब्बत संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मनोनीत
नई दिल्ली। तिब्बत की स्वतंत्रता हेतु सतत कार्यरत भारत तिब्बत संघ के राष्ट्रीय महासचिव अधिवक्ता सौरभ सारस्वत ने राष्ट्रीय अध्यक्ष न्यायमूर्ति ज्ञान सुधा मिश्रा की अनुमति से भारतीय पुलिस सेवा के वरिष्ठ अधिकारी (सेवानिवृत्त) आनंद वर्धन शुक्ल को  राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के पद पर मनोनीत किया हैं।

आपको बता दें कि भारत तिब्बत संघ तिब्बत की स्वतंत्रता के लिए प्रयत्नशील हैं। साथ ही कैलाश मानसरोवर की मुक्ति के लिए भी कार्य कर रहा हैं। भारत के सभी प्रदेशों में भारत तिब्बत संघ की इकाइयां कार्य कर रही हैं।

राष्ट्रीय महामंत्री अधिवक्ता सौरभ सारस्वत ने कहा कि शुक्ल जी के संगठन में आने से संगठन को बल मिलेगा। इनके निर्देशन से संगठन अपने उद्देश्यों की पूर्ति के लिए प्रयास करेगा।

राष्ट्रीय मीडिया संयोजक अजय नागर ने बताया कि आनंद वर्धन शुक्ल राजस्थान केडर के अधिकारी रहे हैं। आप ने राजस्थान के विभिन्न जिलों में  सेवाएं दी हैं। आप पुलिस महानिरीक्षक के पद से सेवानिवृत्त हुए हैं। आप राज्यपाल के परिसहाय भी रह चुके हैं। आप भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय में महानिदेशक भी रह चुके हैं। वर्तमान में मेवाड़ विश्वविद्यालय चित्तौड़ में प्रो वाईस चांसलर  के रूप में कार्य कर रहे हैं।

आनंद वर्धन शुक्ल को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मनोनीत होने पर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) नीलेंद्र कुमार, ओम प्रकाश त्रिपाठी राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष, राष्ट्रीय सचिव श्री सुनील कौशल जी महाराज, गंगोत्री धाम के अध्यक्ष रावल हरीश सेमवाल, शिमला से श्री विजय ठाकुर, आंध्र प्रदेश से श्री सेतु माधवन तथा संघ के सभी प्रान्तों के अध्यक्षो एवं अन्य पदाधिकारियों  प्रसन्नता व्यक्त करते हुए बधाई दी हैं।